The Spirit of Ghazals - लफ़्ज़ों का खेल

Hindi and Urdu Ghazals ♡Shayari ♡ Poetry♡And Lyrics ♡Collection

Tag: क्या टूटा है अन्दर अन्दर क्यूँ चेहरा कुम्हलाया है

1 Post